डिजिटल कंपनी टीवीएफ के सीईओ अरुणाभ कुमार पर लगा यौन शोषण का आरोप !

फेमस डिजिटल कंटेंट कंपनी टीवीएफ (द वायरल फीवर) के मालिक अरुणाभ कुमार पर अपनी एक एम्प्लॉई का यौन शोषण करने का आरोप लगा है।
रविवार रात एक अज्ञात ब्लॉग पोस्ट के ज़रिये अरुणाभ पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अपने साथ काम करने वाली एक लड़की का 2 साल तक यौन शोषण किया है।

पोस्ट के मुताबिक़, लड़की बिहार के मुज़फ्फरपुर की है और उसने साल 2014 में इस कंपनी को ज्वाइन किया था। अरुणाभ भी इसी शहर के रहने वाले हैं। लड़की का कहना है कि पहले ही दिन से उसके साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा था। उसके कंपनी में आने के पहले दिन से लेकर आखरी दिन यानी 2016 तक ये दुर्व्यवहार उसके साथ लगातार हुआ।

डिजिटल कंपनी टीवीएफ के सीईओ अरुणाभ कुमार पर लगा यौन शोषण का आरोप !

उसका कहना है कि उसके साथ काम करने वाले कुछ लोग जैसे नवीन कस्तूरिया को इस बात का अंदाज़ा था लेकिन जब उसने खिलकर इस बारे में उन्हें बताया तो उन्होंने अपना पल्ला झाड़ लिया। उन्होंने कहा, ' इसके बाद ये बात रोज़ाना मेरे  साथ होने लगी। शो पिचर्स से लेकर ट्रिपलिंग तक मेरा शोषण हुआ। हर पार्टी में अरुणाभ मेरे साथ कुछ न कुछ उल्टा करते थे। एक बार ओला टीम के साथ मीटिंग के समय उन्होंने मुझे बाहर बुलाया और मुझे अपने साथ सेक्स करने के लिए कहा। मैं चौंक गए और कहा कि मैं पुलिस में उनकी शिकायत करूँगी तो उन्होंने कहा कि पुलिस तो मेरी जेब में है।

मैंने नौकरी छोड़ने की कोशिश की लेकिन मुझे लीगल ऑफिस से नोटिस आया कि मैं कॉन्ट्रैक्ट को तोड़कर नहीं जा सकती। फ़िलहाल टीवीएफ (द वायरल फीवर) ने इस आरोप को झूठा बताया है और कहा है कि जिसने भी ये पोस्ट लिखा है उसे ढूंढने में वे अपनी जान लगा देंगे। 

अरुणाभ पर लिखे गए पोस्ट पर कमेंट कर और भी कई लड़कियाँ सामने आयी हैं, जिन्होंने अरुणाभ पर शोषण का आरोप लगाया है। टीवीएफ में काम कर चुकी इस महिला ने बताया कि अरुणाभ के घर पर मीटिंग चल रही थी और अचानक वे मीटिंग से उठकर चले गए। जब वे अरुणाभ को ढूँढने से तो उन्होंने उसे पीछे से पकड़ लिया। इसके बाद वो खुद को छुड़ाकर वहाँ से भाग गयी और कभी वापस नहीं आयी।

इसके अलावा और भी लगभग 8 लड़कियाँ हैं जिन्होंने अपने शोषण का आरोप लगाया है। कुछ का कहना है कि अरुणाभ ने उन्हें गलत तरह से छुआ, उन्हें अपने साथ सेक्स करने के लिए कहा, अपने कपड़े उतारने को कहा। इसके अलावा कंपनी के एचआर डिपार्टमेंट में शिकायत करने का भी कोई फायदा नहीं हुआ।

कॉमेडियन अदिति मित्तल, निधि बिष्ट और बिस्वपति सरकार ने अरुणाभ का साथ दिया है। निधि बिष्ट ने कहा कि काम करने के लिए टीवीएफ से बेहतर जगह और कोई नहीं है। मेरे साथ हमेशा टीवीएफ में और अरुणाभ के द्वारा सम्मान और इज़्ज़त के साथ व्यवहार किया गया है। इसका मतलब ये नहीं है कि सभी के साथ ऐसा हुआ हो। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद पहले मैंने इसे नज़रअंदाज़ कर दिया था क्योंकि ऐसा कोई भी कंपनी में नहीं था। मैंने कंपनी के लोगों से भी बात की और मुझे पता चला कि उस लड़की के जैसा कोई भी इस कंपनी में कभी था ही नहीं।

इसके अलावा अदिति मित्तल, अमित गोलानी और नवीन कस्तूरिया ने भी अरुणाभ का साथ देते हुए इस मामले को झूठा बताया है। इन सभी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट और ट्वीट करके इस ख़बर को बेबुनियाद बताया है।

इसके अलावा एआईबी के कलाकार रोहन जोशी, तन्मय भट्ट और आशीष शाक्या ने आरोप लगाने वाली महिलाओं का समर्थन कर इस मामले की कड़ी निंदा की है।

डिजिटल कंपनी टीवीएफ के सीईओ अरुणाभ कुमार पर लगा यौन शोषण का आरोप !
डिजिटल कंपनी टीवीएफ के सीईओ अरुणाभ कुमार पर लगा यौन शोषण का आरोप !
डिजिटल कंपनी टीवीएफ के सीईओ अरुणाभ कुमार पर लगा यौन शोषण का आरोप !

अब टीवीएफ वालों को इस मामले को नज़रअंदाज़ करने और झूठ साबित करने के बजाए मामले की तफ़्तीश करनी चाहिए !

loading..