मुझे कभी प्रेशर महसूस नहीं हुआ: इमरान हाशमी

एक्टर इमरान हाशमी की हालिया रिलीज़ फिल्म 'हमारी अधूरी कहानी' उनके मेक-या-ब्रेक वाली फिल्म थी। फिल्म को 'रेग्रेसिवे' करार दिया गया जिसे इस सीरियल किसर ने गैर ज़रूरी बताया। 'हमारी अधूरी कहानी' उस बॉक्स ऑफिस पर कुछ ख़ास कमाल नहीं किया पर इमरान को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

उन्होंने कहा, "मुझे कभी प्रेशर महसूस नहीं हुआ। मैं समझता हूँ कि सबको पैसे कमाने हैं और सबकी अपनी उम्मीदें हैं पर यह फिल्म उससे कही ज़्यादा बढ़कर थी। मेरे लिए यह एक सिनेमेटिक एक्सपीरियंस था। बॉक्स ऑफिस पर कमाई एक बोनस की तरह है। मेरे प्रोड्यूसर्स के लिए सोमवार तक का समय मुश्किल भरा था फिर उसके बाद सब ठीक हो गया।"

"मैं फिल्म मेकिंग के हर डिपार्टमेंट की इज़्ज़त करता हूँ और उसमे क्रिटिक्स भी शामिल हैं। किसी फिल्म को क्रिटिक करना उनकी अपना विचार होता है। हो सकता है उन्हें ये जोनऱ ही ना पसंद हो और कॉमेडी पसंद करते हो। उन्हें क्या पसंद है शायद यह मेरा सरदर्द हो पर इससे किसी फिल्म का बेंचमार्क नहीं तय किया जा सकता। जो लोग इसे औरतों के नज़रियें से रेग्रेसिव कह रहे हैं तो हमे यह जानने की ज़रूरत है कि जीन्स टीशर्ट पहनना प्रोग्रेसिव नहीं है। देश में ऐसी बहुत सी जगह है जहा अब भी यह होता है। आज भी कई पति या बॉयफ्रेंड औरतों की ज़िन्दगी को कंट्रोल करतें हैं। औरत की चॉइस को सही दिखाने के लिए इस तरह औरत को पेश करना ज़रूरी था। हर कोई ज़िन्दगी में प्यार पाना चाहता हैं और यह एक यूनिवर्सल फीलिंग है। इसके अलावा मेरी इज़ाज़त के बिना कोई भी मेरी बेइज़्ज़ती नहीं कर सकता," उन्होंने कहा।

मुझे कभी प्रेशर महसूस नहीं हुआ: इमरान हाशमी
loading..