पाकिस्तान में भी मौजूद हैं इसी तरह के समूह: धार्मिक असहिष्णुता बारे में फवाद खान

शिवसेना ने महाराष्ट्र राज्य में पाकिस्तानी कलाकारों के प्रवेश को रोक लगा कर, साफ़ तौर पर पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान और माहिरा खान और प्रसिद्ध गजल गायक गुलाम अली का उपहास किया है। हालांकि, ‘खूबसूरत’ स्टार को जाहिर तौर पर इस प्रचलित मुद्दों में से किसी ने भी प्रभावित नहीं किया है और बजाय इसके उनका कहना है ऐसे समूहों को नजरअंदाज कर दिया जाना चाहिए। मूल रूप से पाकिस्तान से ताल्लुक रखने वाले बॉलीवुड अभिनेता ने कहा कि उन्हें भारत में किसी भी समस्या का सामना कभी नहीं करना पड़ा है।

फवाद ने पीटीआई को बताया, “मुझे भारत में काम करते समय किसी भी परेशानी का सामना कभी नहीं करना पड़ा है। पाकिस्तान के खिलाफ काम करने वाले समूहों पर ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए क्योंकि इस तरह के समूह पाकिस्तान में भी मौजूद हैं। कलाकारों के रूप में हमें इस तरह के समूहों की उपेक्षा करनी चाहिए और अपने काम पर ध्यान देना चाहिए।“

अभिनेता ने यह भी कहा कि वह शाहरुख खान को पेशावर के लिए आमंत्रित करना पसंद करेंगे। “पेशावर बहुत ही सुंदर और शांतिपूर्ण है, और मैं शाहरुख खान को अपने पैतृक शहर की यात्रा करने के लिए आमंत्रित करूँगा", उन्होंने कहा। इस बीच, फवाद ने अपनी आने वाली फ़िल्म “कपूर एंड संस’ की शूटिंग पूरी कर ली है, जिसमे सिद्धार्थ मल्होत्रा और आलिया भट्ट जैसे सितारे भी अहम रोल्स में हैं।

पाकिस्तान में भी मौजूद हैं इसी तरह के समूह: धार्मिक असहिष्णुता बारे में फवाद खान
loading..