कैलाश खेर के ये 10 गाने आज भी लोगों के फेवरेट हैं !

देश को एक अलग आवाज देने वाले मशहूर गायक कैलाश खेर अपनी अलग गायकी के लिए जाने जाते हैं। कैलाश भी उन लोगों में शुमार हैं जिन्होंने मुफलिसी से अपने जीवन और करियर की शुरुआत की। 7 जुलाई 1973 को उत्तर प्रदेश के मेरठ में जन्मे कैलाश सिंगिंग में करियर बनाने से पहले बिज़नेस किया करते थे। बिज़नेस में मिले घाटे ने इन्हें अंदर से तोड़ दिया था। फिर मुबई के सफ़र ने इन्हें गायक बना डाला। एक गाने ने बदली जिन्दगी।

वैसे तो कैलाश खेर ने कई बेहतरीन सूफी गाने गाये हैं लेकिन अक्षय कुमार और प्रियंका चोपड़ा की फिल्म ‘अंदाज़’ में गया उनके इस गाने 'रब्बा इश्क ना होवे' ने इनकी जिंदगी बदल दी। इस गाने के बाद इन्होने मुड़ कर पीछे नहीं देखा। उसके बाद ‘वैसा भी होता है’ में ‘अल्लाह के बन्दे हम’ इन्हें अलग पहचान दिलाई।

आइये आपको बताते हैं कैलाश खेर के ये 5 बेहतरीन गानों के बारे में – 

'रब्बा इश्क ना होवे' 

संघर्ष के बाद हर किसी को एक मौका जरुर मिलता है कि वो अपने आप को साबित कर सके। वैसा ही मौका मिला कैलाश खेर को फिल्म ‘अंदाज़’ में ये गाना गाने का। कैलाश ने भी इस मौके का पूरा फायदा उठाया और ऐसा गाया की आज भी उन्हें याद किया जाता है। उस समय ये गाना सुपरहिट हुआ था।

‘अल्लाह के बन्दे हम’

कैलाश खेर का नाम दिमाग में आते ही मन में सूफी गानों की धुन से बजने लगती है। उनकी मधुर आवाज हर दिल को छू लेती है। इस गाने के बाद हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को एक ऐसा सितारा मिल गया था, जिसकी आवाज लोकगीत और सूफी गानों का मिश्रण हो। ये एक अलग सी आवाज़ है। लाखों में कोई एक ऐसी आवाज ले कर पैदा होता है। 

‘तेरी दीवानी’

इस गाने के बोल भर सुन लेने से धुन अपने आप दिमाग बन जाती है। वो धुनम और आवाज़ दिलो-दिमाग में गूंजने लगती है। ये वो गाना है जो हर मूड के व्यक्ति और हर मूड में आपको पसंद आएगा। जिस दिन आपका मूड अच्छा न हो और आप परेशान हो तो एक बार ये गाना जरुर सुन ले। दिल खुश हो जायेगा।

'सैय्याँ'

ये गाना सुन लोगो तो अपने दिन बन जायेगा आपका।

‘या राब्बा’

इस पूरी फिल्म में एक ही सबसे खास बात है वो है इस फिल्म का ये गाना, जिसे कैलाश खेर ने अपनी मधुर आवाज़ दी है। ये गाना आज भी सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है और हर वर्ग के लोग इसे सुनते हैं। ये जादू है कैलाश खेर की आवाज़ में जो हर किसी को अपनी और आकर्षित कर लेती है।

‘तौबा तौबा तेरी सूरत’

ये एल्बम सॉन्ग आज भी कोई नहीं भुला होगा। इस गाने को न सिर्फ सुनने में मज़ा आता है बल्कि देखने पर भी दिल खुश हो जाता है। 2006 में आये इस विडियो एल्बम में कैलाश ने अपनी अदाकारी भी थोड़ी झलक दिखाई थी।  उन्हें इस गाने के साथ अदाकारी करते देखना आँखों को सुकून देता है।

‘बम लहरी’

ये गाना तो सुनते ही डांस करने का मन करने लग जाता है। कैलाश खेर भी इस विडियो सॉन्ग में झूमते नज़र आ रहे हैं। आप भी सुन कर थोडा झूम लो।

‘दिलरुबा’

ये गाना भी आपको बहुत पसंद आएगा।

'यूँ ही चला चल रही'

फिल्म 'स्वदेश' में शारुख पर फिल्माया ये गाना आपको जरुर पसंद आएगा ।

'इश्क न हो किसी से'

अक्षय कुमार और बॉबी देओल की फिल्म 'दोस्ती' का ये गाना आज भी लोगो का फेवरेट है, इस गाने को मशहूर सिंगर सुखविंदर सिंह और कैलाश खेर ने गाया है।

loading..