‘प्रेम रतन धन पायो’ की ‘प्रेम लीला’ नहीं आई पसंद सेंसर बोर्ड को

अभी कुछ ही दिन हुए जब सलमान खान ने सेंसर बोर्ड के प्रमाण पत्र पर टिप्पणी की थी;  और अब खुद उनकी फ़िल्म ‘प्रेम रतन धन पायो’ को भी सेंसर बोर्ड की परेशानी का सामना कर पड़ गया है। यह हिंसा या इसके कंटेंट के बारे में नहीं है जैसा कि आमतौर पर होता, बल्कि इसका मुद्दा कुछ अजीब ही है। सूरज बड़जात्या की फैमिली ड्रामा फ़िल्म के लिए इसका तेलुगु टाइटल मुसीबत बन गया है।

फिल्म के निर्माताओं ने योजना बनाई है कि इस फ़िल्म को दुनिया भर में तीन भाषाओं तमिल, तेलुगु और हिन्दी में रिलीज़ करेंगे। एक सूत्र ने ने बताया, “तेलुगू में ‘प्रेम रतन धन पायो’ का टाइटल ‘प्रेम लीला’ रखा गया है। इन दोनों टाइटल्स का अर्थ बिलकुल ही अलग है। गाइडलाइन्स के मुताबिक, डब हो रही फिल्म के टाइटल का अर्थ भी वही होना चाहिए जो ओरिजिनल फ़िल्म के टाइटल का है।

“यदि ऐसा नहीं है, तो प्रोड्यूसर्स को एक फिल्म के डब वर्शन के लिए एक अलग टाइटल का उपयोग करने की परमिशन के लिए आवेदन करना होगा। ‘प्रेम रतन धन पायो’ के निर्माता ने तेलुगू में एक अलग टाइटल का इस्तेमाल करने की परमिशन के लिए आवेदन नहीं किया है”, सूत्र ने आगे बताया। इस स्टेज पर इस तरह की मुसीबत आना फ़िल्म के बिज़नेस पर बुरा असर डाल सकती है।

कुछ दिन पहले, डीएनए से बात करते हुए सलमान ने कहा था, “एक एक्शन फ़िल्म को 'ए' सर्टिफिकेट मिलना बहुत ही अजीब है, ख़ासकर जब वह एक्शन टीवी पर हर समय दिखाया गया है। वांटेड को 'ए' सर्टिफिकेट दिया गया था, जबकि वह हर समय टीवी पर दिखाई जाती रही है।“ दिलचस्प बात यह है अब उनकी खुद की फिल्म को सेंसर बोर्ड से मंजूरी मिलने को लेकर मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

‘प्रेम रतन धन पायो’ की ‘प्रेम लीला’ नहीं आई पसंद सेंसर बोर्ड को