सलमान खान ने बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों की मनाही पर जाहिर की अपनी राय

पिछले महीने पाकिस्तानी गायक गुलाम अली राजनीतिक मुसीबतों की वजह से भारत में परफॉर्म नहीं कर पाए थे। हाल ही में, बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों पर रोक लगाने पर उठी बहस ने इंडस्ट्री में भी हलचल पैदा कर दी है। बॉलीवुड के सुपर स्टार सलमान खान ने इस मुद्दे पर अपनी राय ज़ाहिर की, उन्होंने कहा कि सिनेमा को कभी भी राजनीति के साथ मिक्स नहीं किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा, “अब जब कि सब कुछ डिजिटल हो चुका है, भारतीयों को हर तरह के एंटरटेनमेंट शोज़ देखना पसंद आता है, जिसमे पॉपुलर पाकिस्तानी शोज़ भी शमिल हैं। तो, कला और मनोरंजन की कोई सीमा नहीं है। मनोरंजन का आम लोगों की पसंद के मुताबिक ही मूल्यांकन करना चाहिए। उन्होंने कहा, “राजनीति और कला को कभी भी नहीं मिलाया जाना चाहिए। आम जनता ऐसा बिलकुल नहीं चाहती है। अगर किसी को लगता है कि कोई एक किरदार एक पाकिस्तानी एक्टर बेहतर तरीके से पोट्रे कर सकता है, तो इसमें कोई भी अड़चन नहीं डाल सकता है। पाकिस्तान में बहुत बड़ी संख्या में बॉलीवुड के फैन्स हैं और पड़ोसी देश से बॉलीवुड अपनी आय का अच्छा खासा हिस्सा कमाता है।”

वहीँ छोर के दूसरी तरफ़, पार्टी के फिल्म विंग चित्रपट शिवसेना के महासचिव, अक्षय बरदापुरकर को लगता है, “हम पाकिस्तानी कलाकारों के यहां प्रदर्शन करने के लिए अनुमति कैसे दे सकते हैं, जब हमारे अपने सैनिकों को उनके द्वारा मारा जा रहा है? हमे इस तरह के दुश्मनों के साथ सांस्कृतिक संबंधों में कोई दिलचस्पी नहीं है।“ शिवसेना ने कुछ बॉलीवुड प्रोजेक्ट्स का हिस्सा रहे पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान और माहिरा खान को भी अपना निशाना बनाया।

सलमान खान ने बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों की मनाही पर जाहिर की अपनी राय