शाहरुख खान, एक इनोवेटिव मूवी मार्केटिंग पायनियर

किंग खान का मानना है कि जब भी बात फ़िल्मों की मार्केटिंग की आती है वह इसके 'पायनियर' हैं। एक्टर, ने को-एक्टर- काजोल के साथ अपनी फ़िल्म ‘माय नाम इज़ खान’ की प्रमोशन के लिए अमेरिकी शेयर बाजार NASDAQ की ओपनिंग बेल बजाई थी। ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ की प्रमोशन के लिए, एक गेम और एक कराओके एप्लिकेशन का शुभारंभ किया था। शाहरुख ने अपनी कई फिल्मों को एक अलग ही अंदाज़ में बढ़ावा दिया है और निश्चित रूप से लाभ कमाया है।

एक इंटरव्यू में शाहरुख खान ने कहा, “जहाँ तक फिल्मों की मार्केटिंग का संबंध है, मैं 100 प्रतिशत दावा कर सकता हूँ कि इस देश में ऐसा करना मैंने ही शुरू किया था, ख़ासकर उस लेवल को जो आज भी प्रचलित है। चाहे यह ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानी’, ‘यस बॉस’, ‘रा.वन’ या ‘हैप्पी न्यू इयर’ हो। मैं सच में एक पायनियर रहा हूँ जहाँ तक फ़िल्मों की मार्केटिंग का सवाल है। (लेकिन) खुद की मार्केटिंग, नहीं, मुझे नहीं लगता है कि एक्टर्स को खुद के लिए मार्केटिंग करने की ज़रूरत है।”

‘दिलवाले’ एक्टर को लगता है कि क्रू जो उनकी फिल्मों के लिए काम करता है को सही हक नहीं मिल पाता है। उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि मैं एक मार्केटिंग विशेषज्ञ हूँ...यह बदकिस्मती है कि मेरी फ़िल्मों का ढेर सारा क्रेडिट मुझे मिल जाता है। वे कहते हैं, “यह एक शाहरुख़ खान हिट है’। ऐसा नहीं है! यह 200 लोगों की हिट है जिन्होंने इस फ़िल्म में काम किया है। मुझे इसलिए क्रेडिट मिलता है क्योंकि मैं एक पोस्टर बॉय हूँ।”

शाहरुख खान, एक इनोवेटिव मूवी मार्केटिंग पायनियर

loading..