संजय लीला भंसाली और पद्मावती के खिलाफ़ बोलने पर शत्रुघ्न सिन्हा को करणी सेना ने दिया सम्मान !

कुछ समय पहले बॉलीवुड एक्टर और बीजेपी पार्टी के सदस्य शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से लेकर सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और शाहरुख़ खान सभी को पद्मावती विवाद पर अपनी राय देने का आग्रह किया था। उन्होंने कहा था, 'पद्मावती का विवाद इतना बढ़ गया है और इसकी वजह से लोग सवाल उठा रहे हैं कि क्यों सुपरस्टार अमिताभ बच्चन, आमिर खान और शाहरुख़ खान क्यों इस विवाद पर कुछ नहीं कह रहे हैं। क्यों हमारी सूचना और प्रसारण मंत्रालय की मंत्री और हमारे माननीय प्रधानमंत्री ने चुप्पी साधी हुई है।' शत्रुघ्न सिन्हा के ये बोलने पर करणी सेना ने उन्हें सम्मानित किया है, जिनकी ज़िन्दगी का मकसद 'पद्मावती' को रिलीज़ होने से रोकना है। जी हां, शत्रुघ्न को पद्मावती के खिलाफ बोलने के लिए सम्मानित किया गया है।

इसके अलावा शत्रुघ्न ने विवाद के बारे में अपनी राय देते हुए कहा, 'मेरी बात की जाये तो मैं पद्मावती विवाद के बारे में तभी कुछ बोलूँगा जब महान फ़िल्मकार और प्रोड्यूसर संजय लीला भंसाली कुछ बोलेंगे। मजें तभी कुछ बोलता हूं जब मुझसे कुछ बोला जाता है और अगर मैं बोला तो अपने दिमाग में फ़िल्मकार संजय हक और राजपूतों की वीरता, संवेदनशीलता और निष्ठा को ध्यान में रख कर बोलूंगा।' इसके साथ ही शत्रुघ्न ने सेंसर बोर्ड से सर्टिफिकेट मिले बिना भंसाली द्वारा मीडिया के लिए 'पद्मावती' की स्क्रीनिंग रखने के बारे में भी कहा। उन्होंने कहा कि भंसाली करणी सेना को फिल्म दिखाने की अपनी बात से पीछे हटे हैं।

ये रहे उनके ट्वीट -