मीनोपॉज में होना एंजेलीना जोली को है पसंद

अपने शरीर में आए बदलाव को अच्छे तरीके से अपनाते हुए एंजेलीना जोली गर्व के साथ कहती हैं कि उन्हें मीनोपॉज में होना बहुत पसंद है। एक्ट्रेस जो इस साल के शुरुवात में कैंसर से बचाव के चलते अपनी ओवरी और फैलोपियन ट्यूब हटवाने के कारण सुर्ख़ियों में आई थी का कहना है कि वे अपने शरीर से खुश हैं। उन्होंने सामूहिक तौर पर अपनी सर्जरी को महिला को जबरदस्ती मीनोपॉज में डालने की बात की थी और अब एक्ट्रेस खुश हैं कि यह फेज उतना बुरा नहीं है जितना हो सकता था।
 

डेली टेलीग्राफ से बात करते हुए एक्ट्रेस ने कहा, "मुझे मीनोपॉज में रहना अच्छा लग रहा है। मैं भाग्यशाली हूँ कि मुझे इसका कोई बुरा रिएक्शन नहीं हुआ। मैं बुढ़ापा महसूस करती हूँ और इसमें सेटल हो गई हूँ।"

उन्होंने आगे कहा, "मैं खुश हूँ कि में बड़ी हो गई हूँ। मैं फिर से जवान नहीं होना चाहती।" 2013 में म्यूटेटेड बीआरसीए 1 जीन पॉजिटिव आने के बाद जिसमें डॉक्टरों के अनुसार ब्रैस्ट कैंसर का 87% रिस्क है और ओवेरियन कैंसर का 50% रिस्क है, हॉलीवुड अभिनेत्री ने मस्टेक्टॉनॉमी कराई थी। एंजेलीना की माँ मार्शलीन बर्ट्रेंड की मौत 56 वर्ष की आयु में ब्रैस्ट कैंसर और ओवेरियन कैंसर से लड़ते हुए हुई थी और वे नहीं चाहती थी कि उनके बच्चे भी इसी बीमारी का शिकार बने। 

मीनोपॉज में होना एंजेलीना जोली को है पसंद

Source: smh.com

टैग्स

Angelina Jolie