अभिषेक बच्चन: वो सितारा जो चाँद बनने की दौड़ से परे हो गया !

अभिषेक बच्चन  को कौन नहीं जानता।  अमिताभ बच्चन के बेटे, ऐश्वर्या राय के पति , आराध्या के पिता - न  जाने कितनी पहचानें हैं उनकी। लेकिन एक पहचान जो अभी भी पूरी तरह से नहीं बन पायी है पॉपुलर इमेज में वो है एक एक्टर की। 

अभिषेक बच्चन: वो सितारा जो चाँद बनने की दौड़ से परे हो गया !

फिल्म रिफ्यूजी से अपने करियर की शुरुआत करने वाले अभिषेक से लोगों की बहुत बड़ी उम्मीदें थीं।  सभी ने सोचा था कि अमिताभ बच्चन का बेटा उनकी तरह ही बेमिसाल स्टार बनेगा।  ध्यान दीजिये, स्टार बनेगा, अभिनेता नहीं।  और कदम-दर-कदम यही बात कही जाती रही। अभिषेक ने जो कुछ भी किया, चाहे अपनी मर्ज़ी का ही क्यों न किया हो, उनकी तुलना हमेशा अमिताभ से की जाती रही है । सभी ने उनकी किसी भी परफॉरमेंस पर यही कहा, "अच्छी थी, पर अमिताभ वाली बात नहीं' । 

अभिषेक बच्चन: वो सितारा जो चाँद बनने की दौड़ से परे हो गया !

मशहूर पिता के बेटे होने के नुकसान यदि  देखने हों, तो अभिषेक को देखा जाना चाहिए।  एक अच्छे एक्टर की सभी खूबियां होने के बावजूद आज वो जिस मुक़ाम पर हैं उससे वो खुद भले ही खुश हों, लेकिन दुनिया उन्हें इस बात पर खुश सिर्फ इसलिए नहीं देख सकती क्योंकि उनके पिता सदी के महानायक हैं। फिल्म युवा या गुरु में उनकी परफॉरमेंस पर किसको शक हो सकता है ? इससे ये बात  साबित हो जाती है कि उनके अंदर सम्भावनाओं की कमी कभी नहीं रही। लेकिन उन संभावनाओं का दायरा समेट कर उनकी पिता की छाया के नीचे इस कदर ला दिया गया कि उससे आगे की सभी बातें बेमानी हो गयीं।

अभिषेक बच्चन: वो सितारा जो चाँद बनने की दौड़ से परे हो गया !

इसमें अमिताभ की कोई गलती नहीं, ना ही अभिषेक की है। हर कलाकार अपने आप में अलग होता है, उसके विकसित होने और उसके करियर की सम्भावनाओं का दायरा अलग होता है , उसकी कमजोरियां और ताकत अलग होती हैं।  लेकिन जब एक कलाकार को किसी की छत्रछाया के तहत सीमित कर दिया जाता है तब पता चलता है कि किस तरह हमारा समाज अपनी अपेक्षाओं की कसौटी की धार बार-बार बदलता रहता है।

अभिषेक बच्चन: वो सितारा जो चाँद बनने की दौड़ से परे हो गया !

तिस पर से एक  मशहूर,खूबसूरत स्त्री से शादी करना। समाज को मज़ाक बनाने के लिए और कितने मसाले की ज़रुरत है? बस ! आपने भी देखे ही होंगे, काफी सारे चुटकुले बने  कि अभिषेक ने खुद से ज़्यादा सफल एक स्त्री से शादी की। ऐश्वर्या राय, जिनका इस  इंडस्ट्री में कोई नहीं था, और उन्होंने अपनी खुद की एक अलग पहचान बनायी, उनसे शादी करना अभिषेक के लिए  मज़ाक का सबब बना  क्योंकि उन्होंने किसी सामान्य, खुद से कमतर लड़की से शादी नहीं की ताकि अपना ईगो बूस्ट कर सकें। वर्ना आज कल की इंडस्ट्री में तो ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने खुद से आधी उम्र की लड़कियों से सिर्फ इसलिए शादी की ताकि उनका खुद का दबदबा कायम रहे इस समाज के सामने।

अभिषेक बच्चन: वो सितारा जो चाँद बनने की दौड़ से परे हो गया !

अभिषेक उतने सफल हैं जितने लाखों लोग होने का सपना भी नहीं देख सकते।  उन्होंने अपने किरदारों पर मेहनत भी की है , खुद के ऊपर काम भी किया है।  लेकिन पब्लिक की नजरमें सफलता सिर्फ तुलनात्मक होती है, ये दुःख का विषय है।  अभिषेक को चाँद बनाने की दौड़ में रखकर ये भूल जाते हैं लोग कि चाँद एक भले ही हो, सितारों से आसमान हमेशा रोशन  होता है। जो लोग उन्हें नकारते हैं, आसमान में जगह तो उन्हें भी नहीं मिलती।