अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !

अमृता सिंह को लोग आज सैफ अली खान की पूर्व पत्नी होने के कारण ज़्यादा जानते हैं, लेकिन ये वही लोग हैं जिन्होंने वो समय नहीं देखा जब अमृता बॉलीवुड की सबसे टॉप हीरोइनों में शुमार होती थीं और एक के बाद एक सुपरहिट फिल्में  दी थीं।  1983 में बेताब फिल्म में सनी देओल के अपोज़िट डेब्यू करने वाली अमृता को हाथोंहाथ लिया गया था इस इंडस्ट्री में।  

अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !

उनकी माँ रुखसाना सुल्ताना बुटीक चलाती थीं, लेकिन कांग्रेस से जुड़ने के बाद काफी जानी मानी पोलिटिकल एक्टिविस्ट  बन गयी थीं। लोगों का ये भी कहना था कि रुखसाना सुल्ताना ने नसबंदी अभियान के समय काफी काम किया था। अमृता के पिता सुखविंदर सिंह विर्क आर्मी अफसर थे, और इस  तरह अमृता एक सिख-मुस्लिम परिवार की हुईं।   

अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !

उनका डेब्यू ही काफी हिट हुआ और उनका नाम अपने को-स्टार सनी देओल से भी जोड़ा गया।  उसके बाद उनका नाम विनोद खन्ना और रवि शास्त्री से भी जोड़ा गया। लेकिन उनका दिल अटका तो खुद से 12 साल छोटे सैफ अली खान पर। सैफ को जहाँ एक नज़र में अमृता से प्यार हो गया था, वहीं अमृता ने अपना समय लिया उनके प्रति आकर्षित होने में। लेकिन जब एक बार प्यार  हुआ तो फिर उसका कोई ओर छोर नहीं था। 1991 में दोनों ने शादी की, जिसके लिए अमृता ने इस्लाम धर्म अपनाया। उनके परिवारवाले इस शादी के विरोध में थे। लेकिन उन सबसे लोहा लेकर अमृता ने आगे बढ़ कर खुद से तेरह साल छोटे सैफ से शादी की। 90 के दशक में ये बहुत बड़ी बात थी और पूरे देश में इस मसले ने भूचाल ला दिया था। 

अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !
अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !
अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !
अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !

शादी के 13 साल बाद 2004 में दोनों  का तलाक हो गया। इसकी वजह दोनों ने अलग अलग बतायी। अमृता के अनुसार सैफ अपनी शादी को ले के वफादार नहीं थे, वहीँ सैफ ने कहा कि उनके लिए इस रिश्ते में प्यार नहीं बचा था इसलिए ये कदम उठाना पड़ा। 

अमृता सिंह: एक ऐसी दबंग लड़की जो प्यार के हाथों हार के भी जीत गयी !

सैफ दूसरी शादी करके आगे बढ़ चुके हैं, करीना के साथ उनका तीसरा बच्चा तैमूर भी हो चुका है।  शादी टूटने के बाद अपने बच्चों  को एक अच्छी लाइफस्टाइल देने के लिए अमृता ने फिल्मों में कैरेक्टर रोल निभाने ज़ारी रखे। उन्हीं के बलबूते  उन्होंने साबित किया कि एक सिंगल माँ होकर भी बच्चों की परवरिश बेहतरीन तरीके से कैसे की जाती है।

अमृता अभी भी कैरेक्टर रोल्स करती हैं, और उनकी एक्टिंग का मुकाबला आज भी नहीं है।  और उनकी तरफ देखना ये याद करना है कि इश्क़  में बर्बाद या आबाद होना ही विकल्प नहीं है  , बल्कि इश्क़ को ज़िन्दगी का एक हिस्सा बनाकर आगे बढ़ जाना भी कभी कभी ज़रूरी हो जाता है।