टीवी एक्ट्रेस संजीदा शेख और उनके परिवार पर लगा घरेलू हिंसा का आरोप !

टीवी सीरियल 'क्या होगा निम्मो का' से पहचान बनाने वाली एक्ट्रेस संजीदा शेख की भाभी ज़केराबानु ज़ाकिर हुसैन बागबान ने अपने पति और संजीदा के भाई अनस अब्दुल रहीम शेख पर घरेलु हिंसा का आरोप लगाया है। ज़केराबानु ने अनस और अपने ससुराल वालों पर सीआरपीसी के अनुभाग 25 के तहत केस किया है।

ख़बरों के मुताबिक, 22 साल की ज़केराबानु ने बताया कि संजीदा के घरवालों ने उनके पिता से पैसों की मांग की थी और उन्हें मारा करते थे। अनस शराबी हैं, उन्हें ड्रग्स की लत है और वे मैच-फिक्सिंग भी करते हैं। ज़केराबानु पिछले 3 महीनों से अहमदाबाद में अपने माता-पिता के साथ रह रही हैं। इसके अलावा खबर ये भी है कि ज़केराबानु 27 मई को अपने पिता से बात कर रही थीं, तब संजीदा और उनकी माँ ज़केराबानु पर चिल्लाने लगीं। उन्होंने ज़केराबानु पर हाथ भी उठाया और बोला कि वे नहीं चाहती कि ज़केराबानु उनके साथ मुंबई के घर में रहें। इसके बाद ज़केराबानु ने घर छोड़ दिया और अहमदाबाद चली गयीं।

टीवी एक्ट्रेस संजीदा शेख और उनके परिवार पर लगा घरेलू हिंसा का आरोप !

अहमदाबाद जाने के बाद ज़केराबानु अस्पताल में भर्ती हुई थीं और उनके ससुराल वाले उन्हें एक भी बार देखने नहीं आये। उनके पति के लिए उन्होंने बताया कि शादी के वक़्त उन्हें बोला गया था कि उनके पति का कंस्ट्रक्शन बिज़नस है लेकिन अनस ज़्यादातर समय घर पर ही बिताते हैं।

इसके अलावा खबर है कि संजीदा और उनके परिवार ने एक याचिका दायर की है, जो ज़केरबानू के आरोपों को खारिज करती है। इस याचिका में बताया गया है कि ज़केराबानु के उनके पिता से रिश्ते अच्छे नहीं हैं क्योंकि वे बहुत रुढ़िवादी ख्यालात के हैं। इसकी वजह से उन्हें अपने ससुराल के खुले वातावरण में एडजस्ट करने में मुश्किल हो रही है। इसके अलावा इस याचिका में कहा गया है कि जब उनके साथ बुरा हुआ तब उनकी तबियत ठीक नहीं थी और उन्होंने अपने ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट को छोड़ दिया था। उस दिन संजीदा घर पर नहीं थीं और अपने प्रोजेक्ट के लिए शूटिंग कर रही थीं।

संजीदा के वकील का कहना है कि कोर्ट ने संजीदा के हक में फैसला करते हुए कहा है कि जांच एजेंसी संजीदा के खिलाफ कोई ज़ोरदार कदम ना उठाये। वकील ने कहा माननीय न्यायालय ने यह स्वीकार कर लिया कि एफआईआर आधारहीन है, अधिकार क्षेत्र में बुरी है और केवल संजीदा को परेशान करने के लिए दायर किया गया है।