जानिए क्यों ललिता पवार को कहा जाता है बॉलीवुड की सबसे खड़ूस सास !

अपने जमाने की एक बेहतरीन अदाकार ललिता पवार का आज यानी 18 अप्रैल को101वां जनदिन है। साल 1916 में जन्मी ललिता एक ऐसी अभिनेत्री थी, जिन्होंने अपने हर किरदार में जान डाल दी। आपको रामानंद सागर की रामायण की मंथरा तो याद ही होगी। टेढ़ी सी चाल चलने वाली मंथरा का किरदार उन्होंने इतना बखूबी निभाया कि उसके बाद वो हर घर में मंथरा के नाम से जानी जाने लगी। 

ललिता ने अपने करियर की शुरुआत उस समय की थी जब मूक फिल्मों का दौर था। वो अपनी कला में इतनी निपूर्ण थी कि हर किरदार को जीवित कर देती थी। बड़े परदे पर एक खड़ूस, अत्याचारी सास का किरदार निभाते हुए तो अपने बहोत बार देखा होगा। लेकिन क्या आपने इन्हे इस खूबसूरत रूप में देखा है।

जानिए क्यों ललिता पवार को कहा जाता है बॉलीवुड की सबसे खड़ूस सास !

इन्होने बड़े परदे पर क्रूर सास का किरदार कुछ इस तरह निभाया कि उसके बाद सभी बहुएं 'सास' नाम से भी डरने लगी थी।  वो दौर ही कुछ ऐसा था। परदे पर वो जितनी क्रूर दिखाई गईं असल ज़िंदगी में उतनी ही मीठी थी। 

जानिए क्यों ललिता पवार को कहा जाता है बॉलीवुड की सबसे खड़ूस सास !

ललिता एक ऐसे समय में जन्मी थी जब महिलाओं को समाज में समान अधिकार नहीं मिलता था। पुरुष प्रधान समाज में उन्होंने अपने बल पर बहुत सी उपलब्धियां अपने नाम की। लेकिन बुरा दौर भी आया जब एक दुर्घटना में वो अपनी सुंदरता खो चुकी थीं। उन्हें फ़िल्में मिलना बंद हो गया था। लेकिन उन्होंने फिर वापसी की और बड़ी उम्र के किरदार निभाए। वो सौतेली माँ, लालची और गद्दार रिश्तेदार, घमंडी और अशिष्ट पड़ोसन बनी। वो बड़े परदे की सबसे बड़ी खलनायिका थी। 

जानिए क्यों ललिता पवार को कहा जाता है बॉलीवुड की सबसे खड़ूस सास ! 

700 से ज्यादा फिल्मों में अपनी अदाकारी दिखा चुकी अभिनेत्री का अंत इतना बुरा होगा सोचा न था। 24 फ़रवरी 1998 को पुणे स्थित अपने घर पर इन्होने कब ऑंखें मूँद ली किसी को कुछ पता नहीं चला। उस समय पति अस्पताल में भर्ती थी और बेटा परिवार के साथ मुंबई में था। खबर का खुलासा तब हुआ जब तीन दिन बाद पुलिस ने घर का दरवाजा तोड़ा  और उन्हें मृत पाया।


टैग्स

Lalita Pawar