भाई-भतीजावाद पर खुलकर बोली बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर !

आईफा अवॉर्ड्स के दौरान सैफ अली खान, करण जौहर और वरुण धवन के 'नेपोटिज्‍म रॉक्‍स' वाले बयान ने बड़ा विवाद खड़ा कर दिया था। इस बात पर कंगना रनौत ने करण जौहर को कहा कि वो बॉलीवुड इंडस्ट्री में नेपोटिज्म को  बढ़ावा देते हैं तभी से इस पर बहस चालू है। अब हाल ही में इंडिया टीवी के शो आप की अदालत में आई कंगना ने बॉलीवुड इंडस्ट्री और इससे जुड़े कई खुलासे किये। जिसपर जमकर बहस शुरू हो गई।

कई लोगों ने कंगना को काफी भला बुरा कहा क्योंकि उन्होंने ऋतिक रोशन,आदित्य पंचोली से लेकर सबको घेर लिया। इसके बाद तो सोशल मीडिया पर कई प्रकार की आलोचनाय शुरू हो गई और कई सितारों ने अपनी अपनी राय जाहिर की। हाल ही में बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर का भी नाम इसमें जुड़ गया है। 

 भाई-भतीजावाद पर खुलकर बोली बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर !

करीना ने फिल्मफेयर मैगजीन को दिए अपने इंटरव्‍यू  में कहा कि नेपोटिज्म हर क्षेत्र में है लेकिन बॉलीवुड को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया जाता है। उन्होंने कहा, ”क्या नेपोटिज्म बाकी क्षेत्रों में नहीं है? बिजनेस चलाने वालों के बच्चे उनका बिजनेस संभालते हैं। एक राजनेता का बेटा उसकी जगह लेता है। वहां तो हम नेपोटिज्म का आरोप नहीं लगाते। यहां तक कि इस इंडस्ट्री में कई ऐसे बड़ी हस्तियों के बच्चे हैं जिन्हें वो स्टारडम नहीं मिली जो उनके पैरेंट्स को मिली। तो मुझे समझ नहीं आता कि लोग फिर इसके बारे में क्यों बात करते हैं।” असल में यह इंडस्‍ट्री एक कठोर जगह है। यहां सिर्फ टैलेंट ही काम आता है और हुनरमंद ही यहां टिक पाते हैं। 


करीना ने कहा, 'अगर यहां रणबीर कपूर है तो यहां रणवीर सिंह भी है, जो किसी बॉलीवुड परिवार से वास्‍ता नहीं रखता। इसलिए मुझे लगता है कि 'परिवारवाद' पर बहस बेमानी है।' करीना ने कहा, 'किसी भी अन्‍य इंडस्‍ट्री की तुलना में यहां आपकी मेहनत सबसे ज्‍यादा मायने रखती है और यही कारण है कि कंगना रनोट को एक बेहतरीन एक्‍ट्रेस माना जाता है, जो इंडस्‍ट्री से नहीं है। अगर यहां आलिया भट्ट है तो यहां कंगना रनोट भी है।' आपको बता दें कि करीना कपूर खान इस मैगजीन के कवर पेज पर नज़र आने वाली हैं।