टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

अपने प्रोडक्ट के प्रमोशन के लिए एक 30 से 40 सेकंड का एड बनाना और उसके ज़रिये एक मेसेज देना आपकी क्रिएटिविटी दिखलाता है। कई केस में तो आप ये कार्य करने में सफल हो जाते हैं लेकिन कई बार ऐसा होता है जब आपका मेसेज उस तरीके से लोगों तक नहीं पहुंचता। क्रिएटिविटी के चक्कर में आप अपने ट्रैक से कहीं और पहुंच जाते हैं और जिसके कारण कई बार गलत मेसेज पहुंचाता है। आइये आपको बताते हैं कुछ ऐसे एड जो अपने मोरल कंटेंट से अलग थे -

मिन्त्रा-लिव फॉर लाइक्स 

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

इस सोशल मीडिया के जमाने में ये सबसे गन्दा मेसेज था हमारी यंग जनरेशन के लिए। ये एड साफ़ ये दर्शा रहा है कि आपकी खुद की वैल्यू इस बात पर निर्भर करती है कि आपको सोशल मीडिया पर कितने लाइक्स मिलते हैं। इसका मतलब ये हुआ कि आप अच्छे कपड़े पहनिए तभी आपकी सेल्फ वैल्यू है। 

एव्री एक्स एवर का एड 

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

जब भी किसी अपमानजनक एड की बात होगी तो एक्स डीयो का एड इसमें जरूर गिना जाएगा। इसमें ये मेसेज था कि अगर आप ये दियो लगायेंगे तो लडकियां आपके पीछे भागेंगी। पहली बुराई इसमें ये कि ये रुढ़िवादी सोच को दर्शाता है जिसका मतलब ये कि लड़कियां सतही चीजों के पीछे भागती हैं। दूसरा ये कि लड़के ऐसा सोचेंगे कि डीयो लगाने से लडकियां उनके पीछे आयेंगी। 

पतंजलि सौन्दर्य फेयरनेस क्रीम

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

ये एड साफ़ तौर पर कट्टरता दर्शाता है। इस वजह से नहीं कि नेचुरल प्रोडक्ट्स के बजाये केमिकल से बनी हुई चीजों के इस्तेमाल को दर्शाया है। बल्कि जिस तरीके से इसे दिखाया गया वो बहुत गलत था। इसमें दिखाया गया है कि मॉडर्न टाइप गर्ल्स हमेशा गलत चीजें ही चुनती हैं। अब आप ये मत सोचिये कि हम ऐसा क्यों कह रहे हैं बल्कि खुद ही एड देख लीजिये।

किसी भी फेयरनेस क्रीम का एड 

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

फेयरनेस क्रीम के एड में हमेशा से ये दिखाया जाता है कि एक सावली सी लड़की को हर कोई नापसंद करता है। माँ बाप उसके किये लड़का नहीं ढूंढ पाते। उसे हर जगह से निराशा का सामना करना पड़ता है फिर आप एक क्रीम का इस्तेमाल करती हैं और सफलता आपके कदम चूमने लग जाती है। वैसे तो इस बारे में बहुत बातें की जा चुकी है कि इन एड्स को लिखने वाले पक्षपात को बढ़ावा देते हैं। इसपर थोड़ा बहुत कार्य भी किया गया है लेकिन अभी भी ये पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। 

स्टार एचडी-अंकल का टीवी डब्बा 

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

जिंगल के अलावा इस एड में बहुत कुछ डिस्टर्बिंग था। ये एड मेसेज देता है कि अगर आपके टीवी पर एचडी चैनल नहीं हैं तो आपका टीवी डब्बा हैऔर बच्चे आपका मज़ाक बनायेंगे। एक तो ये बात की भारत में अभी भी बहुत से लोगों के घरों में बिजली नहीं है दूसरा ये आपको ये दिखा रहा है कि बच्चे अपने माँ-बाप से जिद करें कि वो महंगा टीवी लाये। वरना पड़ोसी उनका मजाक बनायेंगे। 

महक पान मसाला 

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

वैसे तो पान मसाला का प्रचार हमेशा ही दंडनीय रहा है। इसमें दिखाया गया कि पन मसाला आपके अन्दर कॉन्फिडेंस लाता है,आपकी तरक्की दर्शाता है। इस प्रचार में एक लड़की आती है जो पान मसाला खाने वाले व्यक्ति के साथ रोमांस करती है। जब पान मसाला ख़त्म हो जाता है तो वो गायब हो जाती है और तब तक नहीं आती जब तक दूसरा पान मसाला न खुल जाए। ये विज्ञापन बहुत ही बेतुका है। 

कैडबरी डेरी मिल्क 

टीवी के इन सात विज्ञापनों ने दिया दुनिया को गलत मेसेज!

क्या आपको वो समय याद है जब आपकी माँ ने आपको अजनबियों से कुह भी लेने को मना किया था? लेकिन अब कौन इसे समझता है क्योंकि इस विज्ञापन में बस स्टैंड पर एक लड़की को चॉकलेट खाता देख एक लड़का चुपचाप उसके पास आता है। उससे एक बाईट मांगता है और फिर उसे घर तक लिफ्ट भी देता है। पहली गलती तो लड़की से इस तरह चॉकलेट मांगना दूसरा बैकग्राउंड में रोमांटिक म्यूज़िक चलने के बावजूद ये बिलकुल भी रोमांटिक नहीं था बल्कि बहुत ही अरुचिकर लग रहा था।