शाहरुख ने ‘बाजीराव मस्तानी’ को 'आला' कहा; दीपिका इससे नहीं हैं सहमत

‘बाजीराव मस्तानी’ और ‘दिलवाले’ बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह से टकरा रहे हैं और संबंधित स्टार कास्ट एक दूसरे की फ़िल्म की तारीफ करने से बिलकुल भी नहीं कतरा रहे हैं। दीपिका के ये कहने के बाद कि वह शाहरुख को रिलीज की डेट पर मिस करेंगे, शाहरुख खान ने संजय लीला भंसाली निर्देशन को "आला" कह डाला। अब, दीपिका का कहना है कि वह शाहरुख के इस बयान से सहमत नहीं हैं।

एक इवेंट में, शाहरुख को ये कहते हुए सुना गया, “दूसरी फिल्म (बाजीराव मस्तानी) भी मेरे दोस्तों के द्वारा बनाई गई है। हमारा जॉनर ज़्यादा पारिवारिक और खुश मिजाज़ तरह का है। उनकी शैली आला और ऐतिहासिक है। दोनों फिल्मों के लिए, दर्शक अलग-अलग समय पर आएंगे हैं और इन्हें देखेंगे। दोनों वास्तव में अच्छी फ़िल्में हैं।”

किंग खान के साथ असहमति जताते हुए,  दीपिका ने कहा, “मैं ‘बाजीराव’ को बिल्कुल भी आला नहीं कहूँगी। बल्कि,  संजय लीला भंसाली की ताकत, ‘हम दिल दे चुके सनम’ या ‘देवदास’ या ‘राम लीला’ यहां तक कि ‘ब्लैक’ जैसी फिल्मों में उनके कहानी कहने का अंदाज़ ही है और इसके बावजूद उनकी फ़िल्में दुनिया भर में पसंद की जाती हैं। मुझे नहीं पता कि शाहरुख़ खान का क्या मतलब था जो उन्होंने फ़िल्म को आला कहा था, लेकिन ये दोनों फ़िल्में बिलकुल ही अलग जॉनर की फ़िल्में हैं। मैंने दोनों निर्देशकों के साथ काम किया है और उन दोनों का काम करने का तरीका बहुत, बहुत अलग हैं। यहाँ तक कि एक दर्शक के रूप में भी आप दोनों की तुलना नहीं कर पाएंगे, एक एक्शन, कॉमेडी रोमांस फ़िल्म है जबकि ‘बाजीराव मस्तानी’ पूरी तरह से अलग है।”

शाहरुख ने ‘बाजीराव मस्तानी’ को 'आला' कहा; दीपिका इससे नहीं हैं सहमत