"मेरी जगह कोई नहीं ले सकता" - प्रियंका चोपड़ा!

 दुनिया भर में प्रियंका चोपड़ा के चर्चे हैं।  जहाँ उनकी हालिया रिलीज़ बॉलीवुड प्रोजेक्ट में उनकी परफॉरमेंस की तारीफ हो रही है, वहीँ वो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने टीवी शोज़ के जरिये काफी लोकप्रियता बटोर रही हैं। लेकिन यह उनके लिए आसान नहीं रहा।  वे कहती हैं कि जहाँ वो आज हैं , वहां तक पहुँचने में उन्हें काफी मेहनत करनी पड़ी है।  "जब मैं इंडस्ट्री  में नयी थी, तब एक प्रोड्यूसर से मेरी बात हो रही थी जो मुझे कास्ट करना चाहते थे।  लेकिन कुछ डेट्स की मुश्किलों की वजह से यह हो नहीं पाया।  उसने  कहा वह या तो किसी और को ले लेगा या एक नए  एक्टर को लांच कर देगा क्योंकि एक्ट्रेसेस को  रिप्लेस  किया जा सकता है।  यह बात मेरे दिल में घर कर गयी।  अब मैं जब भी उससे मिलती हूँ तो मज़ाक में कहती हूँ कि मेरी जगह कोई नहीं ले सकता" प्रियंका ने कहा और उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने यह स्थान पाने के लिए काफी मेहनत की  है।  "और मुझे लगता है कि मैंने वो स्थान पा लिया है ", उन्होंने जोड़ा।  

"मेरी जगह कोई नहीं ले सकता" - प्रियंका चोपड़ा!
Source : intoday.in

प्रियंका कहती हैं कि उन्होंने अपने करियर को लेकर कभी भी असुरक्षित महसूस नहीं किया क्योंकि वह सिर्फ अपने काम पर ध्यान देती हैं।  "मुझे किसी की सफलता या असफलता से फर्क नहीं पड़ता।  एक एक्टर को सिर्फ उसके मेरिट की वजह से चुना जाता है । मैंने हमेशा खुद से प्रतिस्पर्धा की है और  बड़े मौकों पर ध्यान दिया है।  शायद अगर मेरा करियर अच्छा नहीं होता, तो मुझे असुरक्षा की भावना घेरती",  उनका कहना है। 

जहाँ बॉलीवुड में एक्ट्रेसेस को कैट फाइट से जोड़ कर देखा जाता है वहां प्रियंका यह मानती हैं कि यह एक बेहद पुराना स्टीरियोटाइप है जिसे सही  नहीं माना जाना चाहिए।  वह कहती हैं, " महिलाओं को कैट फाइट तक सीमित कर दिया जाता है।  आज कल की लड़कियों को देखिये, वो कितनी आत्मविश्वासी हैं।  जब दो पुरुष एक्टर एक दूसरे के अच्छे दोस्त होते हैं तो उसे ' ब्रोमैन्स' कहा जाता है। लेकिन एक्ट्रेसेस को हमेशा कैट फाइट्स के साथ जोड़ कर देखा जाता है।  मेरी सारी फीमेल को-स्टार्स के साथ मेरे सम्बन्ध काफी अच्छे रहे हैं।  और मैं यह मानती हूँ कि  वे सभी इंडस्ट्री में अपनी पोजीशन को लेकर सिक्योर और कॉंफिडेंट हैं। "