फैंटम पर पाकिस्तान में लगा बैन हाफ़िज़ सईद की याचिका पर

26/11 के हमलों के मास्टरमाइंड, हाफिज सईद, सैफ अली खान और कैटरीना कैफ अभिनीत फिल्म फैंटम को पाकिस्तान में बैन करवाना चाहते थे, और लाहौर उच्च न्यायालय ने फ़िल्म पर बैन लगा दिया है। जमात- उद-दावा प्रमुख नेयह बताते हुए कि अदालत में एक याचिका दायर की थी कि फ़िल्म की कहानी पाकिस्तान और जमात उद दावा के खिलाफ जहर उगलने वाली है। उन्होंने कहा, “पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय प्रोपोगंडा फिल्म पाकिस्तान में भारतीय आतंकवाद का ही एक हिस्सा हैं। हम ऐसी सभी फिल्मों पर तत्काल प्रतिबंध लगाने की मांग करते हैं।” 20 अगस्त को आतंकवादी की दलीलें सुनने के बाद, लाहौर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जज शाहिद बिलाल हसन ने फ़िल्म पर बैन लगाने के आदेश जारी किया है।

हाफिज सईद के प्रवक्ता ने कहा, “यह फिल्म हाफिज सईद पर एक हमले के लिए कॉलिंग थी, और यह साफ़ तौर पर इंडिया की तरफ़ से आतंकवाद है, ऐसी प्रोपोगंडा फ़िल्म को रिलीज़ करना। इसलिए हमे लगता है कि उच्च न्यायालय ने इस पर एक बहुत ही अच्छा निर्णय दिया है।“

सईद के वकील ए के डोगर ने कहा, “याचिकाकर्ता (सईद) और उसके साथी को फिल्म के ट्रेलर के कंटेंट के चलाये जाने से सीधा खतरा है।” वकील ने आगे कहा, “यह तो साफ़ है कि अलग- अलग एक्टर और एक्ट्रेसेस के होंठों से निकलने वाले डायलॉग्स से पाकिस्तानी जनता के मन जहर भर जाएगा और हाफ़िज़ सईद एक टेररिस्ट के रूप में पोट्रे होंगे भले ही जमात उद दावा एक प्रतिबंधित संगठन के रूप में घोषित कर दिया गया है।”

फैंटम पर पाकिस्तान में लगा बैन हाफ़िज़ सईद की याचिका पर