एफ़ आई आर हुई दर्ज: रणबीर कपूर, फरहान अख्तर जालसाजी के दोषी

कई बॉलीवुड सितारे अक्सर ब्रांड्स की एंडोर्सिंग करते हुए खुद को मुसीबत में डाल लेते हैं। रणबीर कपूर और फरहान अख्तर लेटेस्ट सेलिब्रिटीज हैं जो सितारों की उस लीग में शामिल हो गए हैं चकाचौंध में पकड़े गए हैं। एक वकील ने रॉकस्टार अभिनेता और रॉक ऑन स्टार के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है, उन पर एक ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट को बढ़ावा देते हुए जालसाजी और क्रिमिनल ब्रीच ऑफ़ ट्रस्ट का आरोप लगाया है, जो उनके अनुसार कस्टमर्स को ठग रही है।

रजत बंसल, केशव नगर इलाके के एक निवासी ने ये दावा किया है कि उन्होंने 23 अगस्त को askmebazaar।com से एक 40 इंच एलईडी टीवी आर्डर किया था जिसका मूल्य 29,999 रूपये हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने डेबिट कार्ड के माध्यम से भुगतान किया था और वादा के मुताबिक, 10 दिनों में प्रोडक्ट उन्हें नहीं मिला।, लेकिन उसी प्रोडक्ट की रसीद प्राप्त कर ली है। बंसल के मुताबिक, , लोग इस तरह की साइटों के जाल में फंस जाते हैं क्योंकि रणबीर और फरहान जैसे बड़े स्टार्स इसका प्रमोशन करते हैं।

एक एफआईआर मदियाओं पुलिस थाने में 19 सितंबर को भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत और 420 (जालसाजी) , 406 (आपराधिक विश्वास के उल्लंघन के लिए सजा) के तहत दर्ज कराया गया है। यह एफआईआर वेबसाइट के डायरेक्टर्स संजीव गुप्ता, आनंद सोनभद्र, पीयूष पंकज, किरण कुमार श्रीनिवास मूर्ति और मार्केटिंग ऑफिसर पूजा गोयल के खिलाफ नही दर्ज किया गया है । पुलिस अभी इस मामले की जांच कर रही है ।

एफ़ आई आर हुई दर्ज: रणबीर कपूर, फरहान अख्तर जालसाजी के दोषी