संजय दत्त की जेल की सज़ा ने किया बच्चों से दूर

‘खलनायक’ एक्टर संजय दत्त ने जेल की सज़ा की वजह से तीसरी बार अपने बच्चों के जन्मदिन को मनाने का मौका गँवा दिया। मई 2013 से वह पुणे की येरवडा सेंट्रल जेल में अपनी सज़ा काट रहे हैं। अपने बच्चों के जन्मदिन पर उनकी गैर मौजूदगी को उन्होंने अपने हाथों से बने जन्मदिन कार्ड्स को भेज कर पूरा करने की कोशिश की।

संजय दत्त के दो बेटे हैं, शहरान और इकरा दत्त, जिन्होंने 21 अक्टूबर को पांच साल पूरे कर लिए। ट्विन्स बच्चों ने अपने पिता के लिए ख़ास सन्देश लिखा है जो वह उन्हें तब पेश करेंगे जब संजय जेल से रिलीज़ होंगे। इनसाइडर के मुताबिक, “दोनों ही अपने पिता से बहुत अटैच हैं, और उन्हें घर वापस देखने के लिए बेक़रार हैं. संजय दत्त के अगले साल तक किसी भी समय बाहर आने की उम्मीद है।” इनसाइडर ने आगे बताया, “शहरान और इकरा को हमेशा से ही इन कार्ड्स को देख कर बहुत ख़ुशी होती है, और वे इन कार्ड्स को अपनी नज़रों से दूर नहीं होने देते।”

संजय को 1993 में हथियारों के अवैध कब्ज़े की वजह से अरेस्ट किया गया था। ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि एक्टर को मुंबई ब्लास्ट के बारे में पता था। उन्हें हथियार रखने का दोषी करार दिया गया था लेकिन जज ने उन्हें आतंकवादी होने के आरोप से मुक्त कर दिया था। 

संजय दत्त की जेल की सज़ा ने किया बच्चों से दूर
टैग्स

Khalnayak Sanjay Dutt